तानिया ने निम्बू पानी और पिज़्ज़ा बेचे

ankafig.24a.1

 (यह कहानी उत्तरी अमेरिका के लिए लिखी गई थी)

सपने में परी आई

पिछले वर्ष तानिया ने युवाओं की बेसबाल लीग की भिड़न खेल (playoff games) के अवसर पर न्यू विल्लेज पार्क में निम्बू पानी बेचकर अच्छी कमाई की थी । उसने सोचा कि वह आगामी शनिवार और रविवार को यह काम फिर से कर सकती है ।

खेलों से पहले मंगलवार को तानिया सारा दिन खेल कूद के बाद थक कर सो गई थी । उसे एक सपना आया जिस में एक बहुत सुंदर परी आई । उसके सिर पर एक बड़ा सा सोने का मुकुट था । उसकी आँखों में चमकते हुए सितारे चुनौती दे रहे थे उसकी पौशाक पर चिमटे हुए रंग बिरंगे अबरक को । परी नाचते नाचते कुछ गा रही थी । उठने के बाद तानिया को परी का गाना याद नहीं आया । धुन तो उसके सिर में थी पर शब्द नहीं समझ में आ रहे थे । शायद परी के हाथ में कुछ गोल चीज़ थी जो कटने पर धन बन जाती थी । यह सब अर्थहीन था तो तानिया ने इसे छोड़ कर टीवी देखना शुरू कर दिया । टीवी पर पीट्ज़ पिज़्ज़ा का इश्तिहार आया । पिज़्ज़ा गोल तो था पर काटने पर इसकी फांकें धन नहीं बनी । तानिया ने थोड़ा और सोचा, तो उसे आभास हुआ कि परी कह रही थी पिज़्ज़ा खरीद कर उसकी फांकों को बेचकर धन मिलेगा । जब उसने परी के गाने का यह अर्थ निकाला तो वह तैयार हो गई कि वह निम्बू पानी के साथ साथ पिज़्ज़ा भी बेचेगी ।

तानिया ने निम्बू पानी और पिज़्ज़ा बेचने के लिए मां की अनुमति चाही तो मां ने शर्तें लगा दीं कि तानिया को सारा हिसाब किताब लिखना होगा​,और  हर लाभ को डालर, भिन्न और प्रतिशत तीनों में लिख कर दिखाना होगा ।

निम्बू पानी का व्यवसाय तो तानिया के लिया नया नहीं था । पिछले वर्ष की तरह वह सारी सामग्री $55  में ले आई । पर पिज़्ज़ा व्यापार के लिए उसे सोचना पड़ा ।

तानिया गई  पीट्ज़ पिज़्ज़ा की दुकान पर

तानिया  पीट्ज़ पिज़्ज़ा की दुकान पर गई  । उसने दुकान के मालिक श्री पीट वैलैंस से बात चीत की । उसे अपनी योजना बताई और अलग नापों के पिज़्ज़ा का भाव पूछा ।

पीट: हमारे मीडियम पिज़्ज़ा में 8 फांकें होती हैं, लार्ज  में 10 और आयत की शकल के पार्टी पिज़्ज़ा में 20   ।

तानिया: क्या अलग अलग पिज़्ज़ा में फांकें छोटी बड़ी होती हैं ?

पीट: नहीं, सब पिज़्ज़ा की फांकें लगभग बराबर नाप की होती हैं ।

तानिया: अलग अलग पिज़्ज़ा के दाम बता दें ।

पीट: हमारी तीन ऊपरी परत (topping) वालों के दाम ऐसे हैं: मीडियम के $10 , लार्ज के $12  और पार्टी पिज़्ज़ा के $24  । अगर ज़्यादा ऊपरी परतें डलवाओ तो दाम बढ़ जाएंगे ।

तानिया: रियायत कितनी दोगे । मैं आपका पिज़्ज़ा एक एक फांक करके बेचूंगी । इस तरह बहुत लोगों को आपके पिज़्ज़ा का स्वाद का पता चलेगा ।

पीट: चलो मैं तुझे दाम में 10 प्रतिशत छूट दे दूंगा । इससे अधिक छूट मैं नहीं दे सकता ।

तानिया: मुझे पता है कि आप कागज़ पर छपे हुए विज्ञापन लोगों के घर भेजते हो । उसमें भी खर्चा तो आता होगा । अगर आप चाहें तो उस दिन मैं लोगों को आपके विज्ञापन भी दे सकती हूं (चालाक लड़की) ।

पीट: उस दिन तेरी दुकान पर कितने ग्राहक आएंगे ?

तानिया: पिछले वर्ष मैंने दो दिनो में 400 गिलास निम्बू पानी बेचा था । उम्मीद करती हूं कि इस बार भी इतने ही ग्राहक आएंगे ।

पीट: ठीक है, अगर तू 200 विज्ञापन बांट देगी तो मैं तुझे खरीद के दाम में कुल 20% की छूट दे दूंगा ।

तानिया: क्या आप इस शनिवार और रविवार को पिज़्ज़ा न्यू विलेज पार्क में पहुंचा सकते हो ।

पीट: हां, पर एक बारी पहुंचाने के $2.50 लगेंगे ।

तानिया: क्या आप पहुंचाने के दाम की छूट दे सकते हो ? मैं पिज़्ज़ा की 60 फांकें खरीदूंगी ।

पीट: नहीं, पहुंचाने के दाम की छूट तो नहीं दे सकता पर क्यों कि तू इतना सारा पिज़्ज़ा खरीदेगी और मेरे विज्ञापन भी बांटेगी, मैं पिज़्ज़ा का दाम 30% कम कर दूंगा ।

तानिया: धन्यवाद । मैं पहले सोचूंगी कि कौन से पिज़्ज़ा खरीदने हैं, फिर आप से बात करूंगी ।

मीडियम, लार्ज या पार्टी पिज़्ज़ा ?

अब तानिया सोचने लगी कि प्रति फांक के लिए कौन सा पिज़्ज़ा सस्ता पड़ेगा – मीडियम, लार्ज या पार्टी । इस समय वह दाम की छूट का हिसाब नहीं लगा रही थी । वह बाद में हो जाएगा । मीडियम पिज़्ज़ा पड़ा $10/8 फांकें या $1.25 प्रति फांक । लार्ज पिज़्ज़ा था $12/10 फांकें या $1.20 प्रति फांक और पार्टी पिज़्ज़ा था $24/20 फांकें यानि $1.20 प्रति फांक ।

मीडियम पिज़्ज़ा प्रति फांक के लिए सब से ज्यादा कीमती था और बाकी दोनो का भाव बराबर था । पार्टी पिज़्ज़ा की फांकें तो आयत के आकार की थीं, उसे अच्छा नहीं लगा । तो निर्णय किया कि वह केवल लार्ज पिज़्ज़ा ही खरीदेगी ।

साठ फांकों का मूल्य

साठ फांक खरीदने पर उसे दाम में से 30% की छूट मिलेगी । इसका मतलब यह निकला कि वह 60 x 30/100 यानि 18 फांकें बिना किसी दाम में लेगी । बाकी 60 – 18 यानि 42 फांकों के लिए $1.20 प्रति फांक देगी जो बना $50.24  ।

तो तानिया ने निर्णय किया कि वह ६ लार्ज पिज़्ज़ा खरीदेगी – 3 शनिवार के लिए और 3 रविवार के लिए । प्रतिदिन वह खरीदेगी एक पिज़्ज़ा पेपरोनी वाला, एक हैम और अनानास वाला और एक शाकाहारी पिज़्ज़ा ।  उसने पीट को फ़ोन करके बता दिया । पीट ने कहा कि 6 लार्ज पिज़्ज़ा $72 के होते हैं, 30% छूट और $5 पहुचाने का शुल्क मिला कर कुल $55.24 हो जाएंगे । शनिवार से पहले आकर पैसे दे जाना ।

पिज़्ज़ा की फांकें बेचने के लिए कागज़ी प्लेट और नैप्किन की भी आवश्यकता होगी । उसने इन चीज़ों के लिए $2.76 को $55.24 में मिलाया तो $58 हो गए । । यह था उसके पिज़्ज़ा के व्यवसाय का पूरा खर्चा ।

शनिवार और रविवार के दिन

तानिया ने टिन्कू को याद दिलाया कि पिछले वर्ष उसने तानिया के साथ काम कर के कमाई की थी और पूछा कि अगर वह फिर उसका सहायक बनना चाहता है । टिन्कू ने एकदम खुश हो कर हां कर दी ।

इस वर्ष सामान अधिक होने के कारण उसे एक मेज़ की भी आवश्यकता पड़ी । उसने मैदान वालों की एक मेज़ किराए पर ले ली । उसे $10 देने पड़े और हर दिन उनके कमरे से लाना और फिर वापिस भी रखना था ।

मेज़ पर थे कूलर, निम्बू पानी के जार, गिलास, प्लेटें, नैप्किन, पीट पिज़्ज़ा के विज्ञापन और पिज़्ज़ा रखने का स्थान ।  उसने एक बड़ा सा बोर्ड लगाया जिस पर लिखा था: निम्बू पानी 25 सैंट, पिज़्ज़ा की  फांक और निम्बू पानी $2  । अगर देखा जाय तो यह बना पिज़्ज़ा $1.75 और निम्बू पानी 25 सैंट ।

ग्यारां बजे गर्मी थोड़ी बढ़ने लगी ।  खिलाड़ी, शिक्षक, स्वयंसेवक और दूसरे लोग निम्बू पानी खरीदने के लिए आने लगे । कई लोगों ने पिज़्ज़ा के बारे में पूछा । उन्हें पिज़्ज़ा का विज्ञापन दे कर बताया गया कि बारां बजे ताज़ा पिज़्ज़ा आएगा ।

आखिर, दोपहर होते ही पिज़्ज़ा आ गया । दुकान पर  एक छोटी सी लाइन पहले से ही बन चुकी थी । कुछ ग्राहक केवल निम्बू पानी मांग रहे थे और कुछ पिज़्ज़ा और निम्बू पानी दोनो । तानिया और टिन्कू को तेज़ रफ़्तार से काम करना पड़ा । फिर आने वालों की संख्या थोड़ी कम हो गई ।

एक समय पर तो तानिया को संदेह होने लगा कि सारा पिज़्ज़ा बिकेगा भी या नहीं । अचानक एक खेल समाप्त होने पर फिर से लाइन लग गई । ऐसे ही चलता रहा – कभी बहुत कम ग्राहक और कभी एक खेल समाप्त होने पर लम्बी लाइन ।

दो बजे तानिया ने सुख की सांस ली । पिज़्ज़ा की केवल दो फांकें ही बची थी । काम कर कर के बेचारी को भूख भी लग गई थी । उसने एक फांक खा ली और दूसरी टिन्कू को दे दी ।

चार बजे तक सारा निम्बू पानी भी बिक गया । उन्होंने कूड़े को थैले में डाला और कनिस्तर में फैंक दिया, मेज़ को वापिस रखा और घर चले ग​ए ।

रविवार भी ऐसे ही चला । तानिया और टिन्कू दस बजे आए । गर्मी थोड़ी ज्यादा थी और निम्बू पानी जल्दी ही बिकने लगा । दोपहर को पिज़्ज़ा आया और दो बजे तक सब कुछ बिक गया । हां, पिज़्ज़ा की एक एक फांक तानिया और टिन्कू ने भी खाई, बिल्कुल पिछले दिन की तरह ।

तानिया का हिसाब किताब

तानिया ने कुल 56 पिज़्ज़ा की फांकें और 400 गिलास निम्बू पानी बेचे थे । इसमें पिज़्ज़ा के साथ बेचे ग​ए निम्बू पानी के गिलास भी गिने ग​ए हैं । पिज़्ज़ा की फांकों से $1.75 प्रति फांक के हिसाब से $98 मिले । 400 गिलास निम्बू पानी 25 सैन्ट या $0.25 प्रति गिलास के दर पर $100 हो गए । तो उसे कुल $198 की आय हुई । उसने पैसे  गिने और उसका हिसाब ठीक था ।

तानिया ने पिछले  वर्ष केवल निम्बू पानी बेचा था और टिन्कू को $5 दिए थे । इस वर्ष तो उसने बहुत अधिक काम किया था । तो इस लिए तानिया ने उसे $15 दे दिए । आय बढ़ने पर टिन्कू बहुत प्रसन्न था ।

अपने लाभ की गणना से पहले तानिया को अपने सब खर्च गिनने थे । खर्च थे $55 निम्बू पानी का सामान, $58 का पिज़्ज़ा, $15 टिन्कू की सहायता और $10 मेज़ का किराया ।

तानिया की रिपोर्ट

  राशी राशी भिन्न में राशी  प्रतिशत में
खर्च      
टिन्कू का वेतन $15 15/138= 5/46 15/138×100=10.87%
मेज़ $10 10/138=  5/69 10/138×100=7.25%
निम्बू पानी का सामान $55 55/138= 55/138 55/138×100=39.86%
पिज़्ज़ा और सामान $58 58/138= 29/69 58/138×100=42.03%
कुल खर्च $138 (15+10+55+58)/138=1 10.87+7.25+39.86+42.03=100%
आय      
निम्बू पानी $100 100/198=50/99 100/198×100=50.51%
पिज़्ज़ा $98 98/198=49/99 98/198×100=49.49%
कुल आय $198 +(50+49)/99=1 50.51+49.49 =100%
लाभ $60    
लाभ/खर्च भिन्न   60/138=10/23  
लाभ/खर्च %     60/138×100=43.48

तानिया की मां तो इस रिपोर्ट से खुश थी । बेटी ने सारे खर्च, आय और लाभ बताए और वह भी राशी, भिन्न और प्रतिशत सारों में ।

तानिया की खुशी तो इसमें थी कि उसने पिछले वर्ष से अधिक धन कमाया । फिर भी उसके मन में कई प्रश्न थे ।

क्या पिज़्ज़ा का व्यवसाय करना चाहिए था या केवल निम्बू पानी का ?

क्या उसे लाभ बढ़ाने के लिए पिज़्ज़ा बड़ी मात्रा में लाना चाहिए था ?  उसे याद आया कि पिज़्ज़ा ना बिकने पर हानी भी हो सकती थी ।

तुम्हारी सोच क्या है ?

चुनौती

मान लो कि तानियां ने पिज़्ज़ा कि 80 फांकें खरीदीं, पहले की तरह उसमें से दो खा ली और बाकी 76 बेच दीं । पीट ने दाम में वही 30% ही छूट दी । और भी कुछ नहीं बदला । अब हिसाब किताब की तालिका फिर से बनाओ – जैसी तानिया ने बनाई थी ।